प्रथम प्रयास में डिप्टी एसपी पद पर चयनित हुई पासी समाज की मंजरी राव

चयनित डिप्टी एसपी मंजरी राव

प्रयागराज सोरांव / उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग-2018 की परीक्षा का परिणाम शुक्रवार को घोषित किया गया । सोरांव तहसील के ग्रामसभा कुरगांव की निवासी मंजरी राव का चयन डिप्टी एसपी पद के लिए हुआ हैं ।

इनके पिता स्व. यशवंत राव जी वाराणसी जनपद के कई थानों के थाना अध्यक्ष रह चुके थे । जो विधि के जानकार एवं अच्छी छवि के पुलिस अधिकारी थे। वर्ष 2016 में सोनभद्र में तैनाती के दौरान पिता यशवंत शहीद हो गए थें ।

लगभग हर पुलिस का अधिकारी अपने बच्चों को अपने से बड़े पुलिस अधिकारी के तौर पर देखने के लिए सपने बुनता रहता हैं । यशवंत भी यहीं सपना देख रहें थें । संयोग हैं कि बेटी की सफलता की खुशी मानने के लिए उनका शरीर नही है।

कुमारी मंजरी राव की शिक्षा वाराणसी मे बीएचयू से हुई है , इन्होंने अपने प्रथम प्रयास में उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग द्वारा मात्र 23 वर्ष की अवस्था मे डिप्टी एसपी पद पर चयनित होकर अपने परिवार सहित पूरे क्षेत्र का नाम रोशन किया है।

दिवंगत पिता के सपनो को साकार करने वाली बहादुर बिटियाँ मंजरी राव को बहुत-बहुत बधाई व उज्ज्वल भविष्य की शुभकामनाएं

पासी महासभा के जिला अध्यक्ष सहित बहुजन अवाम पार्टी के उपाध्यक्ष कांग्रेस में शामिल

प्रयागराज /उत्तर प्रदेश अनुसूचित जाति विभाग के प्रदेश अध्यक्ष आलोक पासी एवं पूर्व विधायक राम सजीवन निर्मल , प्रदेश उपाध्यक्ष ने संगठन के विस्तार में प्रयागराज के सर्किट हॉउस में कांग्रेस जनो के साथ बैठक किया । जिसमें मुख्य रूप में प्रदेश के दलितों पर हो रहें हमलों पर विस्तार से चर्चा की गई ,साथ ही दलित समाज को पार्टी से जोड़ने के लिए विशेष अभियान चलाने की बात कही गई ।

इस दौरान कांग्रेस पार्टी में अनुसूचित जाति जनजाति की भागीदारी को देखतें हुए बहुजन अवाम पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष भुलई राम पासी और अखिल भारतीय पासी महासभा के प्रयागराज जिला अध्यक्ष फूलचंद सरोज ने अपने अपने दर्जनों समर्थकों के साथ पार्टी की सदस्यता ग्रहण किया ।

सर्किट हाउस के सभागार में हुई बैठक में प्रदेश महाचिव अनुसूचित विभाग राजेश कुमार ,राकेश , आरके गौतम ,जिला अध्यक्ष गंगापार राम किशुन पटेल , शहर अध्यक्ष राम मनोरथ सरोज , जिला प्रवक्ता डॉ अजय प्रकाश सरोज , जिला सचिव दिवाकर भारती ,कांग्रेस नेता अमर सिंह गौतम एडवोकेट , बृजेश गौतम , भोला तिवारी , इरसाद उल्ला , कामेश्वर सोनकर , वरिष्ठ नेता किशोर वाष्र्णेय , सभासद मीरा देवी, कंचन देवी, राकेश पटेल, रितेश कुमार, सुनील कुमार , परमेश्वर चौधरी , फूलचंद पासी, विमलेश ,अश्विनी रॉय ,नागेंद्र आदि पदाधिकारी व कार्यकर्ता शामिल रहें ।

अखिल भारतीय पासी समाज के कार्यकारी अध्यक्ष राघो चौधरी जी का निधन

बिहार / अखिल भारतीय पासी समाज के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष एवम अपर जिला समाहर्ता के पद से अवकाश प्राप्त माननीय श्री राघो चौधरी जी का निधन आज दिनांक 11 अगस्त 2020 को प्रातः हो गया वे लंबे समय से बीमार चल रहे थे हाल में उन्हें कोरोना हो गया था।एक लंबे समय तक उन्हों ने पासी समाज के प्रदेशाध्यक्ष भी रह चुके थे वे सबसे पहले अपनी नोकरी की शुरुआत रेलवे से की और रेल में गाड़ी लिपिक के पद पर थे बाद में बिहार पब्लिक सर्विस कमीशन से परीछा पास कर बी दी ओ के पद पर योगदान दिए और प्रोन्ती पाकर एडीएम के पद से अवकाश प्राप्त किये वे पासी समाज के गार्जियन के नाम से फेमस थे ।उन्होंने अपने जीवन मे एक सफल व्यक्ति रहे उन्होंने जो चाहा उसी तरीका से संगठन का संचालन किया जो लोग उनके बात नही मानते वे लोग बाहर का रास्ता देखते थे जिसके परिणाम में बिहार में पासी समाज की कई संगठन हो गया श्री राघो चौधरी पासी समाज के वैसे नेता थे जो राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष के पद तक गए इन्हें राष्ट्रीय अध्यक्ष आर ए प्रसाद द्वारा पासी रत्न से सम्मानित किया था।

इनके सहयोग से बिहार में कई लोगो को पासी रत्न मिला आज इनके निधन से पासी समाज को बहुत ही क्षति हुआ है , इनके कमी को नही पूरा किया जा सकता है । अखिल भारतीय पासी महासभा इनके निधन से काफी दुखी है और इनके आत्मा को शांति मिले इसके लिए इस कोरोना काल मे अखिल भारतीय पासी महासभा के सभी सदस्य सभी पदाधिकारी जहाँ भी है ।संध्या चार बजे दो मिनट का मौन रखकर उनकी आत्मा के प्रति सच्ची श्रद्धा सुमन अर्पित किया। इस विकट परिस्थिति में अखिल भारतीय पासी महासभा उनके समस्त परिवार के साथ है ईस्वर परिवार को इस दुःख की घड़ी में दुःख सहन करने की क्षमता दे ।

नाबालिग पासी लड़की के अपहरणकर्ताओ पर मेहरबान पुलिस पर भड़के राष्ट्रीय भागीदारी मिशन के कार्यकर्ता

रायबरेली : राष्ट्रीय भागीदारी मिशन जनपद रायबरेली के तत्वाधान में आज जिला अध्यक्ष यशपाल एडवोकेट एवं जिला प्रभारी सुरेंद्र मौर्य के नेतृत्व में अनुसूचित जाति पिछड़ों पर हो रहे जुल्म अत्याचार व प्रशासनिक अधिकारियों को लगातार दे रहे प्रार्थना पत्र में सार्थक कार्यवाही ना किए जाने के संबंध में पुलिस अधीक्षक को ज्ञापन दिया गया।

गौरतलब है की ग्राम व पोस्ट मोन थाना कोतवाली महाराजगंज प्रार्थी राम प्रकाश पासी पुत्र सुखई की नाबालिग पुत्री जो लगभग 13 वर्ष की है एवं कक्षा 6 की नियमित छात्रा है का अपहरण दिनांक 2 फरवरी 2020 को हुआ था । यह अपहरण शैलेंद्र सिंह द्वारा जो कि मोन के ही निवासी है, माताफेर सिंह के पुत्र है अपराधिक प्रवृत्ति का शैलेंद्र सिंह जिसके ऊपर लगभग एक दर्जन मुकदमे दर्ज है । जिसमें से 323 ,504,506,225 ,506,354 समेत कई संगीन मुकदमे दर्ज हैं । प्रतिपक्ष द्वारा लगातार वादी पर दबाव बनाया जाता है व जान से मारने की धमकी दी जाती है । शैलेंद्र सिंह की गिरफ्तारी अभी तक नहीं हुई है जबकि उस अपराध में तीन अन्य व्यक्तियों की गिरफ्तारी हो की गई हैं , शैलेंद्र सिंह मुख्य आरोपी है ।

प्रार्थी कई बार प्रार्थना पत्र दे चुके हैं लेकिन जिम्मेदार पुलिस अधिकारियों के द्वारा कोई कार्यवाही नहीं की गई है मिशन के नेताओ की प्रमुख मांगों में यह भी है कि विवेचना किसी दूसरे सर्किल के क्षेत्राधिकारी से करवाई जाए ।राष्ट्रीय भागीदारी मिशन के पदाधिकारियों द्वारा मांग किया कि भारतीय संविधान में प्रत्येक व्यक्ति की गरिमा व उसके मौलिक अधिकारों का हनन न होने पाए राष्ट्रीय भागीदारी मिशन पूरी तरह से कानून नियमों को मानने वाला है राष्ट्रीय भागीदारी मिशन द्वारा पुलिस अधीक्षक को दिए गए प्रार्थना पत्र में कहा है कि यदि पीड़ित व्यक्ति को 15 दिन के भीतर न्याय नहीं मिला तो वह सोशल डिस्टेंसिंग के मद्देनजर प्रांगण में आन्दोल लिए बाध्य होगा।इस मौके पर जिला उपाध्यक्ष व तिलोई विधानसभा के प्रभारी मोहम्मद उमर विधान सभा के प्रभारी योगेश जी, सदर विधानसभा अध्यक्ष शिव प्रसाद एडवोकेट जी समेत तमाम पदाधिकारी मौजूद रहे।

नाबालिग रेप पीड़िता को पैसा ,जमीन और अनाज देकर बलात्कारियों को बचाने में लगी पुलिस

कौशांबी – थाना पिपरी के गांव भोजपुर में खेत में चारा काटने गई एक नाबालिक दलित लड़की का गांव के ही भगवत प्रसाद मिश्रा और संतोष सिंह नामक शादीशुदा युवकों ने सामूहिक रेप किया और जब पीड़िता के घर वालो ने पिपरी थाने में शिकायत की तो पिपरी पुलिस आरोपियों पर केस दर्ज कर पीड़िता का मेडिकल कराने के बजाय पीड़िता के भाई और पिता को सुलह समझौते के लिए दबाव बनाते हुए पीड़िता के घरवालों से बोली कि आप लोग पैसे, जमीन और अनाज लेकर समझौते कर लो वरना बाद में लड़की की शादी होने में समस्या होगी और बदनामी भी होगी ।

जब पीड़िता के घर वाले समझौते से मना कर दिए तो पिपरी पुलिस ने पीड़िता के भाई और पिता को थाने में बंद कर दिया और फर्जी मुकदमे में जेल भेजने की धमकी देने लगी और आज तक लड़की का मेडिकल नहीं कराया गया, पिपरी पुलिस आरोपियों को बचाने में लगी हुई है।

कौशांबी : गुहौली गोलीकांड में पीड़ित दलित परिवार से मिला कांग्रेसी प्रतिनिधिमंडल

●भाजपा सरकार में दलितों,मजलूम पर बढ़ा है अत्याचार- कांग्रेस

कौशांबी- पार्टी की राष्ट्रीय महासचिव व उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी के निर्देश पर शनिवार को छः सदस्य प्रतिनिधिमंडल सराय अकिल थाना क्षेत्र के अकबराबाद गोली गांव में पीड़ित दलित(पासी) परिवार से मिला और उनकी समस्या को जाना। प्रतिनिधिमंडल में पार्टी के पूर्व विधायक राम सजीवन निर्मल, प्रदेश सचिव विवेकानंद पाठक, अनुसूचित जाति विभाग के महासचिव आरके गौतम, जिलाध्यक्ष अरुण विद्यार्थी, महिला कांग्रेस के जिला अध्यक्ष अमिता सिंह, पार्टी के पूर्व जिला अध्यक्ष तलत अजीम, देवेश श्रीवास्तव , नैयर रिजवी, विनोद चौधरी,शामिल रहे।

इस मौके पर बोलते हुए पूर्व विधायक राम सजीवन निर्मल व आरके गौतम ने कहा कि भाजपा नीत सरकार में प्रदेश में दलितों एवं मजलूमो पर अत्याचारों में बेतहाशा वृद्धि हुई है। सरकार कानून व्यवस्था के मामले में पूरी तरह से फेल रही है। सराय अकिल के गुहौली गांव की घटना भी इसका एक जीता जागती नजीर है। इस मौके पर बोलते हुए जिलाध्यक्ष अरुण विद्यार्थी व जिला प्रभारी विवेकानंद पाठक ने कहा कि गांव में इस घटना में अगड़ी जातियों के लोगों ने दलितों के साथ मारपीट कर अत्याचार किया।

इसके बाद भी दलितों पर ही स्थानीय पुलिस अधिकारियों ने फर्जी तरीके से मुकदमा लाद कर जेल भेजने का काम किया है। उन्होंने कहा कि प्रतिनिधिमंडल ने सारी सच्चाई जमीनी स्तर पर जाकर देखी है। जिसकी सूचना वह आगामी दिवसों में पार्टी की राष्ट्रीय महासचिव व प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी जी को देंगे और इस मामले से वह प्रशासन को भी अवगत कराएंगे कि वह दलित पीड़ितों की बात सुने और उनकी ओर से भी मुकदमा दर्ज कराकर गांव के दबंगों के खिलाफ कठोर कार्रवाई करें। कांग्रेस पार्टी गरीब,मजलूमों,दलित,शोषित,वंचितों की लड़ाई लड़ती रहेगी।

तरुण रावत बनें यूपी कांग्रेस अनुसूचित जाति विभाग में प्रदेश उपाध्यक्ष

यूपी कांग्रेस ने अनुसूचित विभाग की सूची जारी की है, पूर्व मंत्री आरके चौधरी जी के जनसंपर्क अधिकारी व पासी समाज मे चर्चित चेहरा तरुण रावत को प्रदेश उपाध्यक्ष का पदभार सौंपा गया हैं । इसके साथ ही राज्यसभा के सासंद पीएल पुनिया के पुत्र तनुज पुनिया , रामसजीवन निर्मल और योगी जाटव को भी उपाध्यक्ष बनाया गया हैं।

कांग्रेस नेताओं ने संगठन में बड़ा बदलाव करते हुए अनुसूचित जातियों में जातीय न्याय को आधार मानकर भागीदारी सुनिश्चित किया हैं । जिसमे दलित वर्ग में आने वाली सभी जातियों को सम्मयक भागीदारी दीं गई हैं ।

राष्ट्रीय महासचिव व यूपी की प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा के नेतृत्व में कांग्रेस नें दलितों- पिछड़ो और अल्पसंख्यक को केंद्र में रखकर समाजिक व जातीय न्याय को हथियार बनाकर ब्रह्मणवाद से सीधे टकराने की तैयारी कर रही हैं ।

लेकिन इसके लिए दलितों-पिछड़ों के युवाओं को जातीय पहचान वाली क्षेत्रीय पार्टियों से मोह छोड़कर कांग्रेस के साथ मज़बूती से खड़े होने की जरूरत हैं । पार्टी सूत्रों का मनना है कि प्रियंका गांधी सामाजिक न्याय की मज़बूत वकालत करती है और सुनती भी हैं । जिसके कारण यूपी में बड़ा बदलाव देखने को मिल रहा हैं । आने वालें दिनों में पार्टी का संगठन पूरी तरह बदला हुआ नजर आएगा ।

पासी किलें में अवैध निर्माण रोकने पहुँचा पासी नेताओ का दल

प्रदेश सरकार द्वारा महाराजा बिजली पासी के 12किले में शामिल सरोजनी नगर के बिजनौर सरवन नगर में स्थित नथावन किला जो पुरातत्व विभाग द्वारा पूर्व से संरक्षित है। पासी समाज की धरोहर इस किले पर एल डी ए द्वारा गुपचुप तरीके से अवैधरुप से खनन कर बनायी जा रही का सडक का सम्पूर्ण पासी समाज विरोध के साथ मौके पर जाकर काम वन्द करवा दिया तथा आज समाज के दर्जनो पदाधिकारियो ने किला पर पहुंच कर जायजा लिया।

सभी ने मुख्यमंत्री सहित डीएम व पुरातत्व विभाग को ज्ञापन देकर अवैध रुप से हो रहे कार्य को बन्द करवाकर पासी समाज के गौरव को बचाने का निर्णय लिया गया।प्रतिनिधि मंडल में मुख्य रुप से अम्ब्रीश सिंह पुष्कर विधायक मोहनलालगंज ,इन्दल रावत पूर्व विधायक, सपा नेता अनिल पासी ,सुरेश रावत , डीपी रावत ,डा.मोहन लाल पासी, डा. यसवंत सिंह,अनोद रावत सहित दर्जनो पासी समाज के साथी मौजूद रहे।

महाराजा बिजली पासी द्वारा निर्मित किलें में हो अवैध खनन को पासियों ने रुकवाया

पासी किले के अवैध कटाई और खनन की न्यूज़ आते ही पासी युवाओं ने हाथो हाथ लिया जिसमें दो दिन पहले वीडियो लाइव आकर योगेश पासी , शिवम भाई , रोहित भाई ने अपने समाज के नेताओ से अपील किया की पासी किले पर हो रहे अवैध खनन को तत्काल रोका जाए .यह मीडिया में आते ही हड़कंप मच गया , समाज के लोगो के फोन की घंटियां बजने लगीं जिससे जो हो रहा वो करता रहा
यह बात जंगल में आग के तरह फैली , खबर पाकर कौशल यूथ ब्रिगेड हरकत में आयी फिर माननीय सांसद कौशल किशोर वर्तमान लखनऊ मोहनलाल गंज
की कौशल किशोर यूथ ब्रिगेड के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ पंकज रावत जी के नेतृत्व में किले पर हो रहे अवैध निर्माण कार्य को रोकने के लिए गए और कार्य को रुकवाया गया मौके पर ही कानूनगोह सरोजनी नगर को माननीय सांसद कौशल किशोर जी के द्वारा निर्देशित करके भेजा गया काम को पूरी तरह आज से बंद करा दिया गया है और साइड से जे सी बी, रोलर, ट्रैक्टर को भागा दिया गया है। लेकिन ये एक बड़ी चुनौती है जिसको पूरे पासी समाज को मिलकर लड़ना होगा। राजनीति से परे हटकर।पासी समाज के सभी साथी जो वहां पर इकट्ठा हुए थे सबका बहुत बहुत धन्यवाद । यही एकता यही जोश चाहिए सबको मिलकर एक साथ काम करना होगा- Pasi landlord

डीसी हॉस्टल : महाशय मसुरियादीन की विरासत

प्रयागराज में मशहूर बालसन चौराहे पर स्थित डीसी हास्टल(D C Hostel) की स्थापना 1952 के आसपास की गई थी। इस जमीन को अनुसूचित जाति के बच्चों को निःशुल्क आवास उपलब्ध कराने के उद्देश्य से स्व बाबू बैजनाथ सहाय श्रीवास्तव ने पूर्व स्वतंत्रता सेनानी व पूर्व सांसद माननीय मशुरियादीन को दान में दिया था।

जिसमें महाशय मसुरियादीन जी ने प्रथम तल पर १० कमरों का निर्माण किया और इलाहाबाद विश्वविद्यालय से संबद्ध कालेजों में पढ़ने वाले निर्धन और गरीब छात्रों को निःशुल्क कमरे देकर उनके पढ़ने और बढ़ने की राह आसान करते रहे।यह हास्टल महाशय मसुरियादीन जी एक सामाजिक संस्था द्वारा संचालित करते रहे।संस्था के द्वारा ही हास्टल का रख-रखाव, साफ-सफाई, बिजली-पानी तथा छात्रों का नामांकन होता था।

यह हास्टल समाज कल्याण विभाग द्वारा अनुबंधित भी है जिससे समय समय पर अनुदान राशि मिलती रही और उसी पैसे से मेंटिनेंस होता रहता था।यह एससी छात्रों के लिए जो पढ़ने आते थे,प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करते थे और निर्धन गरीब परिवारों से होते थे । उनके लिए किसी जन्नत से कम नहीं है। इस हास्टल से करीब दो दर्जन अधिकारी, कर्मचारी , अध्यापक, न्यायिक सेवा में सेलेक्ट हुए हैं। यहां नाम देना उचित प्लेटफारम नहीं है। अगर यह हास्टल नहीं होता तो ऐसे प्रतिभाशाली युवाओं को जो गरीब परिवारों से थे शायद अच्छे पदों पर पहुंचना कठिन होता। प्रयागराज और आसपास के जिलों के छात्रों के लिए यह हास्टल बरदान है।

आज यह हास्टल अव्यवस्था और बद- इंतजामी के आंसू बहा रहा है। जिसके कारण पता करने पर हमें मालूम हुआ कि इस हास्टल का रख-रखाव साफ-सफाई पूर्व में केयरटेकर सुखीराम भारतीय के द्वारा किया जाता रहा। तत्पश्चात श्री प्रकाश चन्द्र कैथवास द्वारा होता रहा जिनकी मृत्यु 2018 में हो गई। स्व प्रकाश चन्द्र कैथवास के समय में ही इस हास्टल में कानूनी अड़चन आ गई । कूटनीति और साजिश के तहत इस जमीन को कोई दो महिलाएं ने 2006 मे दुकानदारों के पक्ष में रजिस्ट्रेशन कर दिया गया।और उनके द्वारा 2010 से लगातार प्रशासन की मिलीभगत से छात्रों को डराने-धमकाने, हास्टल खाली कराने और उसे गिराने की कोशिश जारी है। इसमें केयरटेकर स्व प्रकाश चन्द्र कैथवास की भूमिका संदिग्ध है। मामला कोर्ट में विचाराधीन है अतः आगे नहीं लिखा जा सकता।

इस कानून साजिश और अड़चन के कारण छात्र परेशान किये जा रहे हैं।इस समय न बिजली है और न ही पानी है।जो जरूरतमंद गरीब छात्र रह रहे हैं उन्हें परेशानी झेलनी पड़ रही है।इस बीच बहुत से ऐसे छात्र इसमें है जिन्हें वास्तव में इनको जरुरत नहीं है।वे हो सकता है कहीं नौकरी में भी हों या घर पर हों। उनके कमरे बंद हैं। इसलिए नये छात्र उसमें नहीं रह पा रहे हैं। ऐसे छात्र इन कमरों को तुरंत खाली करें। जिससे नये छात्र नामित किए जा सकें। ऐसे लोगों को खुद सोचना चाहिए कि वे समाज के अन्य छात्रों के साथ अन्याय क्यों कर रहे हैं।

महाशय मसुरियादीन जी के नाम से आज बहुत सारे संगठन सामाजिक और राजनीतिक कार्यों का उल्लेख करते रहते हैं।उनकी जयंती भी जोर-शोर से मनाई जाती है।मेरा ऐसे सभी राजनीतिक दलों, सामाजिक संगठनों, कार्यकर्ताओं, वुद्धिजीवियो, हास्टल के सफल पुरा छात्रों,
एडवोकेट समूह से अपील है, निवेदन है कि महाशय मसुरियादीन जी की इस विरासत को बचाने में अपना आर्थिक,वौद्धिक सहयोग करें जिससे समाज के निर्धन और गरीब बच्चे इस आर्थिक मंदी में अपनी पढ़ाई जारी रख सकें।और उनका भविष्य उज्जवल हो सके।

यहां सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि स्व बाबू बैजनाथ सहाय श्रीवास्तव जी ने जो सपना देखा था, कि हम इस जमीन को ऐसे नेक कार्य के लिए दे रहे हैं जिससे इस क्षेत्र के एस सी समाज के निर्धन,गरीब बच्चे भी पढ़कर प्रदेश/देश के विकास के अपना योगदान देंगे। मैं समझता हूं कि इस विरासत को बचाकर हम बाबू बैजनाथ सहाय श्रीवास्तव जी को सच्ची श्रद्धांजलि अर्पित कर सकते हैं।
सहयोग और अपेक्षाओं के साथ।

रिपोर्ट –

मोतीलाल कश्यप
प्रयागराज
9455298292